राजेंद्र गुप्ता मानते हैं कि ज़िंदगी एक रीसेट बटन के साथ आती है, बस आपको अपनों का प्यार और समर्थन चाहिए

सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन के स्लाइस ऑफ लाइफ ड्रामा ‘जगन्नाथ और पूर्वी की दोस्ती अनोखी’ ने अपनी प्यारी कहानी से दर्शकों का दिल जीत लिया है, जो रिश्तों को एक नए नजरिए से देखती है। जगन्नाथ (राजेंद्र गुप्ता) और पूर्वी (इस्मीत कोहली) के बीच दोस्ती के अनूठे बंधन के इर्द-गिर्द घूमते वर्तमान ट्रैक ने अपने जबर्दस्त ड्रामा के साथ दर्शकों की दिलचस्पी बढ़ा दी है। इस ट्रैक में आलोक जगन्नाथ की सहमति के बिना उनका पुश्तैनी घर गिरवी रखकर जगन्नाथ का भरोसा तोड़ देता है। इस बीच पूर्वी भी प्रेग्नेंट हो जाती है। जगन्नाथ की ज़िंदगी में चीज़ें निश्चित रूप से मुश्किल हो गई हैं। सच ही कहा गया है कि ‘जहां चाह है वहां राह है’, और जगन्नाथ भी वही साबित करने आगे आएंगे और पूरे धैर्य और सकारात्मक नजरिए के साथ दोनों स्थितियों से निपटने का प्रयास करेंगे। आगामी एपिसोड्स में, दर्शक जगन्नाथ मिश्रा हर तरह से यह सुनिश्चित करेंगे कि पूर्वी की हर जरूरत पूरी हो। वे ऐसे मुश्किल वक्त में पूर्वी का हौसला बनाए रखने के लिए उसे प्रेरित करेंगे।

एक्टर राजेंद्र गुप्ता अपने किरदार जगन्नाथ की इस दिलचस्प विशेषता को लेकर कहते हैं, “जगन्नाथ एक अनुभवी व्यक्ति हैं, और इसलिए वो जानते हैं कि जो कुछ भी होता है वो वापस जरूर आता है। हर क्रिया की प्रतिक्रिया होती है। आप जो बोते हैं, वही काटते हैं। फिर भी, जगन्नाथ मजबूती से ये मानते हैं कि ज़िंदगी में हमेशा एक रीसेट बटन जरूर होता है और आगे बढ़ने के लिए बस अपनों के प्यार और समर्थन की जरूरत होती है। कुसुम और जगन्नाथ यह देखकर टूट जाते हैं कि उनके बेटे ने उन्हें धोखा दिया। साथ ही, वे पूर्वी और उसकी प्रेग्नेंसी को लेकर फिक्रमंद हैं। इस समय पूर्वी के मन की स्थिति ऐसी है कि वो ज़िंदगी से हार मान चुकी है, लेकिन जगन्नाथ ऐसा नहीं मानता है। पूर्वी ने तब जगन्नाथ के लिए बहुत कुछ किया और उन्हें प्यार दिया, जब उनके अपने बच्चों ने उनका साथ छोड़ दिया था। ऐसे में जगन्नाथ अब पूर्वी के साथ खड़ा होगा, जहां पूर्वी अपनी ज़िंदगी के इस नए चरण की शुरुआत कर रही है। वो पूर्वी को उसकी कीमत समझाना चाहता है, और उसे बताता है उसकी ज़िंदगी ऐसी नहीं कि जिसे पल में ठुकरा दिया जाए। इसलिए, जगन्नाथ ने वादा किया है कि जब भी पूर्वी को दुनिया अपने खिलाफ लगेगी तो वो पूर्वी का मजबूत सहारा बनकर उसका साथ देंगे। जगन्नाथ मिश्रा का ये कदम वाकई तारीफ के काबिल है। जगन्नाथ पुराने विचारों वाले व्यक्ति हैं, लेकिन दोनों के बीच इस पवित्र और खूबसूरत रिश्ते ने उन्हें चीजों को बहुत अलग तरीके से देखने और उन पर अलग रवैया अपनाने के लिए प्रेरित किया है।”

ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि जगन्नाथ अपनी ज़िंदगी में उठे इन तूफानों से किस तरह निपटते हैं।

देखिए जगन्नाथ और पूर्वी की दोस्ती अनोखी, हर सोमवार से शुक्रवार रात 9:30 बजे, सिर्फ सोनी टीवी पर।

getmovieinfo.com

Related posts