‘‘प्रचंड देव जी लेकर आयेंगे भीमराव के जीवन में बहुत बड़ा भूचाल‘‘, यह कहना है एण्डटीवी के ‘एक महानायक-डाॅ बी.आर. आम्बेडकर के गोविंद खत्री का

दिग्गज अभिनेता गोविंद खत्री फिलहाल एण्डटीवी के ‘एक महानायक-डाॅ बी.आर. आम्बेडकर‘ में प्रचंड देव जी के रूप नजर आ रहे हैं, जो खुद को ऊँची जाति का संरक्षक और भगवान के बाद अपने को सबसे बड़ा मानता है। हाल ही में हुई एक बातचीत के दौरान उन्होंने टीम से जुड़ने से पहले ही यह शो देखने, अपने नये किरदार, पुरानी भूमिकाओं और कई चीजों के बारे में बात की। प्रस्तुत है इस इंटरव्यू के कुछ प्रमुख अंश:

प्रचंड देव जी के अपने किरदार को आप किस तरह परिभाषित करेंगे?

प्रचंड देव जी की एंट्री से युवा भीमराव के जीवन में कई परेशानियां एवं चुनौतियां आयेंगी। कहीं न कहीं भीमराव और उनके रास्ते टकराते हैं और इससे उनके साथ एक बड़ा वैचारिक मतभेद उत्पन्न हो जाता है, जिसकी वजह से वह भीमराव की जिंदगी में बहुत बड़ा भूचाल लेकर आयेंगे। प्रचंड देव जी को भीमराव और उनके सिद्धांतों से लड़ने के लिये नरोत्तम के रूप में एक पार्टनर मिल जाता है और वे अपमान करने एवं क्रूरता पर उतर आते हैं। हालांकि, प्रचंड देव जी द्वारा उठाये गये कदम भीमराव को और भी ज्यादा साहस से साथ हालातों का सामना करने के लिये मजबूत बनाते हैं और इससे उनकी दूरदर्शिता, अदम्य दृढ़ता और दृढ़संकल्प को बल मिलता है। प्रचंड देव भीमराव की जिंदगी में लाया गया तूफान दर्शकों के लिये इसे एक भावनात्मक लेकिन प्रेरणादायक कहानी बनाता है।

क्या आपने टीम के साथ जुड़ने से पहले भी यह शो देखा है?

‘एक महानायक-डाॅ बी.आर. आम्बेडकर‘ अभी भारतीय टेलीविजन पर सबसे ज्यादा मशहूर शोज में से एक है और मैं यह शो शुरू से ही देखता आ रहा हूं। दिलचस्प बात यह है कि इस शो को बेहतर तरीके से समझने और नये किरदार की तैयारी करने के लिये मैंने इसके कुछ पहले के एपिसोड्स फिर से देखे।

यह शो डाॅ बाबासाहेब आम्बेडकर की जिंदगी पर आधारित है। इस शो से जुड़ने से पहले आप उनकी उपलब्धियों के बारे में कितना जानते थे?

एक उत्कृष्ट नेता के रूप में उनकी जीवन गाथा भारत में सभी को पता है। एक समाज सुधारक, राजनेता और न्यायविद के रूप में भारतीय संविधान के जनक बाबासाहेब आम्बेडकर का योगदान हर किसी को वाकई में प्रेरणा देता है। यह शो उनके अदम्य दृढ़ता, दृढ़ निश्चय और दूरदर्शिता को दर्शाता है और इस उम्दा शो का हिस्सा बनकर मुझे बहुत खुशी हो रही है।

कोई ऐसा किरदार, जिसके लिये लोग आज भी आपको पहचानते हैं और जिसने एक व्यक्ति के रूप में आपको बदला हो?

खुशकिस्मती से मुझे श्री कृष्णा में कर्ण की भूमिका निभाने का मौका मिला था और इस किरदार के लिये मुझे आज भी दर्शकों की तारीफें मिलती हैं। इस रोल ने मेरे एक बिल्कुल अलग ही व्यक्तित्व को उभारा और मेरी जिंदगी में मुझे कई मूल्य सिखाये। इसके अलावा, फिल्मों ने मेरे कॅरियर को आकार देने में काफी मदद की है और मुझे दर्शकों से काफी प्यार और सराहना भी मिली।

getmovieinfo.com

#AndTv #EkMahanayak #Show #Actor #GovindKhatri #Interview

Related posts