‘प्यार का पहला नाम राधा मोहन‘ के शबीर अहलुवालिया बताते हैं, ‘‘अभि से मोहन के किरदार में ढलना आसान नहीं था, लेकिन मैंने कुछ महीनों तक इस पर कड़ी मेहनत की‘‘

ज़ी टीवी जल्द ही एक नया फिक्शन शो ‘प्यार का पहला नाम राधा मोहन‘ लेकर आ रहा है, जो आज के वृंदावन की पृष्ठभूमि पर आधारित एक गहरे रोमांस की कहानी है। यह शो अपने दर्शकों को मोहन के दिलचस्प सफर पर ले जाएगा, जो कभी सबका मन मोह लेता था। लेकिन वक्त के साथ उसका वो उत्साह कहीं गुम हो गया है। वो अब एक गंभीर और चिड़चिड़ा आदमी बन गया है, जिसकी आंखों से गम साफ झलकता है। मोहन ने अपने आसपास एक अदृश्य दीवार बना दी है और वो किसी को भी अपने करीब नहीं आने देता। वो सिर्फ अपनी मां के करीब है, जिसे वो बहुत चाहता है। इस गंभीर किरदार को कोई और नहीं, बल्कि पॉपुलर टीवी सुपरस्टार शबीर अहलुवालिया निभाने जा रहे हैं। शबीर इससे पहले ज़ी टीवी के सबसे लंबे समय तक चलने वाले टॉप-रेटेड शो ‘कुमकुम भाग्य‘ में नजर आए थे और अब वे इस नए प्रोजेक्ट को लेकर काफी उत्साहित हैं। हालांकि वे बताते हैं कि अभि से मोहन के किरदार में ढलना आसान नहीं था।

शबीर अहलुवालिया को चैलेंजिंग किरदार निभाना बहुत पसंद है और ‘प्यार का पहला नाम राधामोहन‘ में भी वो एक बिल्कुल अलग रोल निभाएंगे। इसमें वो एक ऐसे आदमी का रोल निभाएंगे, जो अपनी उम्र के 30वें दशक के बीच है। सब उसे पसंद करते हैं, लेकिन वो अपने रास्ते से भटक गया है। जहां हमने बीते कुछ सालों में शबीर को अलग-अलग अवतारों में देखा, वहीं उनका नया अवतार और ये किरदार काफी अनोखा है। असल में उन्होंने न सिर्फ इस किरदार के लिए खुद में एक बड़ा बदलाव किया, बल्कि इस किरदार की बारीकियों को अपनाना भी उनके लिए एक बड़ी चुनौती थी। इससे उन्हें एक बेहतर एक्टर बनने में भी मदद मिल रही है।

अपने किरदार का राज खोलते हुए शबीर ने कहा, ‘‘मैं कभी अलग किरदार निभाने से पीछे नहीं हटा। असल में इसके लिए मैं हमेशा रोमांचित और उत्साहित रहा हूं। चुनौतीपूर्ण किरदारों ने हमेशा मुझे एक बेहतर एक्टर बनाया है। मुझे लगता है कि एक एक्टर के लिए अपने लुक और अपने किरदार के साथ प्रयोग करने से बहुत-सी चीजें सामने आती है और उन्हें अपने आसपास के माहौल के हिसाब से आगे बढ़ने में मदद मिलती है। ज़ी टीवी के शो ‘प्यार का पहला नाम राधा मोहन‘ का मेरा नया किरदार मोहन कुमकुम भाग्य के मेरे अभि के किरदार से पूरी तरह अलग है। मैं यह कहना चाहूंगा कि अभि के रोल से मोहन के किरदार में ढलना आसान नहीं था, लेकिन मैंने कुछ महीनों तक इस पर कड़ी मेहनत की है। इससे मुझे अपने किरदार को बिल्कुल अलग तरह से निभाने में यकीनन मदद मिलेगी।‘‘

जहां दर्शक शबीर को नए अवतार में देखने के लिए काफी उत्साहित हैं, वहीं ये देखना भी दिलचस्प होगा कि आखिर किस चीज ने मोहन जैसे जोशीले और आकर्षक नौजवान को ऐसे गुम और उदास इंसान में बदल दिया, जो खुशी से महरूम है?

getmovieinfo.com

Related posts