अब हार या जीत ही करेगी चाॅल का फैसला!

एण्डटीवी के शो ‘एक महानायक- डाॅ बी. आर. आम्बेडकर‘ में चाॅल में ऊँची और नीची जात के बीच लगातार चल रहा विवाद एक और आकस्मिक मोड़ लेगा। ऊँची जात से नीची जात को एक और बड़ी चुनौती मिलेगी और उनके पास उसे स्वीकार करने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं बचेगा। इस चुनौती को जीतने पर ही उनके सिर पर दोबारा छत आएगी, क्योंकि उन्हें धोखे से चाॅल से निकाल दिया गया था। भीमराव (अथर्व) अपने घरों में वापस लौटने और उल्हास सेठ (फारुख खान) की शैतानी योजनाओं को विफल करने के लिए इस चुनौती को जीतने का हर संभव प्रयास करने के लिये संकल्पित हैं। लेकिन क्या भीमराव की कोशिशें रंग लाएंगी या फिर चाॅल के निवासी एक और बुरी योजना के शिकार बन जाएंगे?

कहानी के इस हिस्से के बारे में भीमराव की भूमिका निभा रहे अथर्व ने कहा, ‘‘भीमराव और चाॅल में रहने वाले उनके साथी निवासियों को चाॅल से बाहर कर दिया गया है और उन्हें फिर से अपने घरों में लौटने के लिये लड़ना होगा। और अब ऊँची जात ने उनके ऊपर एक और चुनौती थोप दी है, जिसके चलते उन्हें अपनी चाॅल को बचाने के लिये सारी बाधाओं को पार करना ही होगा। यह उनके लिये बदलाव का एक मोड़ होगा। अब हार या जीत ही करेगी चाॅल का फैसला!’’

देखते रहिये ‘एक महानायक- डाॅ बी. आर. आम्बेडकर, हर सोमवार से शुक्रवार, रात 8ः30 बजे सिर्फ एण्डटीवी पर!

getmovieinfo.com

Related posts