पीवीआर सिनेमाज़ ने सिनेमा एंटरटेनमेंट में 25 साल पूरे होने का जश्न मनाया

पीवीआर की नई ब्रांड फिल्म में आमिर खान दिखाई देंगे और पीवीआर का 25वीं सालगिरह के लोगो, पीवीआर के पहले एनएफटी क्वाईन एवं आईकोनिक टिकट का अनावरण किया

भारत की सबसे बड़ी और सबसे प्रीमियम फिल्म प्रदर्शनी कंपनी, पीवीआर सिनेमाज़ ने भारत में 25 गौरवशाली साल पूरे कर लिए हैं। पीवीआर साल 1997 में भारत में मल्टीप्लेक्स क्रांति लेकर आया और पिछले सालों में यह देश के हर कोने में मूवीप्रेमियों का मनोरंजन करते हुए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सिनेमा अनुभव प्रदान करता आ रहा है।

इस महत्वपूर्ण उपलब्धि की खुशी मनाने के लिए यह ब्रांड एक मल्टी-मीडिया कैम्पेन शुरु कर रहा है। इस कैम्पेन की शुरुआत आमिर खान अभिनीत एक फिल्म, ‘‘इस अंधेरे में बहुत रोशनी है’’ के साथ हो रही है। इस फिल्म का कॉन्सेप्ट ग्राहकों की एक समझ पर आधारित है और यह कविता विनीत केकेएन पंछी द्वारा लिखी गई है, जिसे फिल्म के लिए विकसित किया गया है। फिल्म का विचार ग्राहकों की उन सभी भावनाओं और अनुभवों से निकला है, जो लाईट बंद होते ही ग्राहकों को मूवीज़ के मैजिक के साथ रिश्तों और मुक्ति की एक काल्पनिक दुनिया में ले जाते हैं।फिल्म अंधेरे और रोशनी का एक बेहतरीन मंचन होता है, जो दर्शकों को सिनेमा के अंदर निर्मित जीवन के सफर पर ले जाता है और यह एकमात्र जगह है, जहाँ पर अंधेरे की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। यह ‘‘ज्यादा मैजिक’’, ‘‘ज्यादा यादों’’, ‘‘ज्यादा एडवेंचर’’ और ‘‘ज्यादा खुशी’’ के वादे पर बल देता है, ताकि दर्शक सिनेमा की श्रेणी और पीवीआर के ब्रांड में पूरी तल्लीनता के साथ संलग्न रहें।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by P V R Cinemas (@pvrcinemas_official)

पीवीआर की 25 सालों की सफल यात्रा के बारे में,अजय बिजली, चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर, पीवीआर लिमिटेड ने कहा, ‘‘हमें भारत में 25 साल पूरे होने पर बहुत गर्व व खुशी महसूस हो रहे हैं। मनोरंजन उद्योग, दर्शकों का फिल्म देखने का तरीका और उनकी रुचि पिछले सालों में बहुत विकसित हो गए हैं, और पीवीआर उनकी अपेक्षाओं पर सदैव खरा उतरा है। हम ग्राहकों के साथ संलग्न होकर उन्हें नए सिनेमेटिक अनुभव प्रदान करते हैं और हमारा फोकस पर्दे पर सफल कहानियाँ लेकर आने पर है ताकि हम अपने अंशधारकों के जीवन में ज्यादा सुकून व खुशी लेकर आ सकें।’’

getmovieinfo.com

Related posts