निधि उत्तम एण्डटीवी के ‘दूसरी मां‘ में निभायेंगी माला का किरदार

एण्डटीवी अपने नये फैमिली ड्रामा ‘दूसरी मां‘ का प्रीमियर करने के लिये पूरी तरह तैयार है, जिसमें नेहा जोशी और आयुध भानुशाली प्रमुख किरदार निभा रहे हैं। इस शो में यशोदा (नेहा जोशी) की कहानी दिखाई गई है, जो उत्तर प्रदेश में अपने पति, दो बेटियों और सास-ससुर के साथ रहती है। उसकी खुशहाल और शांत जिंदगी में उस समय तूफान आ जाता है, जब वह और उसके पति अनजाने में अपनी (पति की) नाजायज संतान कृष्णा (आयुध भानुशाली) को गोद ले लेते हैं। इस शो में कृष्णा की असली मां का प्रमुख किरदार निभाने के लिये निर्माताओं ने मशहूर टीवी अभिनेत्री निधि उत्तम को लिया है, जो माला का किरदार निभायेंगी। अपने किरदार के बारे में बताते हुये निधि उत्तम, जोकि एण्डटीवी के ‘दूसरी मां‘ में माला की भूमिका निभा रही हैं, ने कहा, ‘‘कृष्णा की मां माला एक सिंगल, अविवाहित महिला है। उसने 10 साल पहले अशोक को छोड़ दिया था, जिससे वो बेइंतहा प्यार करती थी। उस समय वह अशोक के बच्चे की मां बनने वाली थी। अशोक के पिता उन दोनों की शादी के लिये तैयार नहीं थे, इसलिये वह अशोक को अपने कोख में पल रहे बच्चे के बारे में बताये बिना वहां से चली गई, ताकि किसी तरह की गलतफहमियां ना पैदा हों। हालांकि, जब उसकी तबियत बिगड़ने लगी, तो वह उस शहर में वापस आई, जहां अशोक रहता है। माला बस इतना चाहती है कि उसकी मौत के बाद उसके बच्चे को किसी तरह का कष्ट नहीं सहना पड़े। इस शो की कहानी कृष्णा और यशोदा के प्यार और परवाह पर आधारित है, जिसे उन्होंने समय की आंधी में खो दिया था।

निधि, जोकि उत्तर प्रदेश के कानपुर की रहने वाली हैं, ने कहा, ‘‘इस शो की कहानी मेरे अपने राज्य उत्तर प्रदेश की पृष्ठभूमि पर आधारित है, इसलिये मैं संस्कृति और बोली के नजरिये से किरदारों के साथ  आसानी से जुड़ाव महसूस कर सकती हूं। ‘दूसरी मां‘ की कहानी अनूठी है। हालांकि, इसकी कहानी एक मां और बेटे के रिश्ते पर आधारित है, लेकिन इसका जुड़ाव असाधारण है। मुझे उम्मीद है कि दर्शकों को यह कहानी दिलचस्प और अपनी-सी लगेगी। इसकी कहानी पूरी तरह से मेरे किरदार के इर्द-गिर्द घूमेगी और इसमें कई फ्लैशबैक्स होंगे। माला का किरदार बहुत मजबूत है। उसने जिंदगी में जिससे प्यार किया, उससे शादी किये बगैर जीवन की सारी बाधाओं को पार कर अकेले कृष्णा की परवरिश की है और उसकी मां और पापा दोनों की जिम्मेदारियों को बखूबी निभाया है। लेकिन उसकी असमय मृत्यु से यशोदा और कृष्णा दोनों की ही जिंदगी में भावनात्मक भूचाल आ गया है।‘‘

getmovieinfo.com

Related posts