टीवी कलाकार बता रहे हैं अपने मेकअप सीक्रेट्स

मनोरंजन उद्योग में हम कलाकारों को अक्सर काॅस्ट्यूम, ज्वैलरी, तौर-तरीकों, प्रोस्थेटिक, डायलाॅग्स, आदि की मदद से अपने किरदारों में ढलते हुए देखते हैं। लेकिन इसमें मेकअप की भी भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है, जो कलाकारों को उनके किरदार में बखूबी ढालने के लिये जादुई काम करता है। बढ़िया मेकअप साफ दिखता है और मेकअप आर्टिस्ट एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और हर कलाकार की जिन्दगी का अटूट हिस्सा रहे हैं। एण्डटीवी के कलाकार अपने वे सीक्रेट मेकअप टिप्स बता रहे हैं, जो रोजाना अपने किरदार में ढलने में उनकी मदद करते हैं। यह कलाकार हैं नेहा जोशी (यशोदा, ‘दूसरी माँ’), कामना पाठक (राजेश, ‘हप्पू की उलटन पलटन’) और विदिशा श्रीवास्तव (अनीता भाबी, ‘भाबीजी घर पर हैं’)। एण्डटीवी के शो ‘दूसरी माँ‘ में यशोदा बनीं नेहा जोशी ने बताया, ‘‘मैं मेकअप की कोई बड़ी फैन नही हूँ और ‘दूसरी माँ’ में यशोदा भी वैसी ही है। मेरे किरदार का लुक बेहद साधारण है और यह बात मुझे पसंद है। हालांकि स्क्रीन पर हमें परफेक्ट दिखाने के लिये हमारे पास मेकअप आर्टिस्ट्स और स्टाइलिस्ट्स की एक बेहतरीन टीम है, पर मैं कई बार खुद ही अपना मेकअप करना पसंद करती हूँ, ताकि शूटिंग के व्यस्त शेड्यूल्स में समय बचाया जा सके। मेरा मानना है कि मेकअप करने से स्क्रीन पर किरदारों का पूरा लुक और एहसास बेहतर हो जाता है। आमतौर पर मेरे मेकअप में काजल, लिप बाम, न्यूड लिपस्टिक और लाइट वाटर-बेस्ड फाउंडेशन होता है, ताकि मैं यशोदा के लुक में आ सकूं। मेरे मेकओवर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है भौहों को मोटा बनाना और ज्यादा मस्कारा लगाना, जिससे यशोदा का पूरा लुक बेहतर होता है, क्योंकि मेरा मानना है कि किसी भी कलाकार की आँखे शब्दों से ज्यादा बोलती हैं। चमक-दमक से भरी इस इंडस्ट्री का हिस्सा होने के बावजूद, जहाँ आपकी दिखावट बहुत मायने रखती है, मैं हैवी मेकअप का इस्तेमाल केवल खास मौकों या अवार्ड शोज में ही करती हूँ।’’

एण्डटीवी के शो ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ में राजेश बनीं कामना पाठक ने बताया, ‘‘एक्टिंग में अपने अनुभव से मैं कह सकती हूँ कि सही मेकअप एक किरदार के अपीयरेंस की बुनियाद होता है। वह हर किरदार को व्यक्तित्व देता है। मैं अपने शो ‘हप्पू की उलटन पलटन’ में बार-बार कई किरदारों में ढलती हूँ और हर बार मेकअप की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। वह दिखावट को पूर्णता देता है और किरदार के व्यक्तित्व को मजेदार बनाता है। अगर मैं मेकअप में मेरे योगदान की बात करूं, तो मेरा मेकअप आर्टिस्ट विक्की ही राजेश के लुक की जान है। वह चार साल से मेरा मेकअप कर रहा है और हर बार अपनी कोशिशों से मुझे आश्चर्य में डाल देता है। जब वह मेरा मेकअप करता है, तब मैं देखती हूँ और उससे कई सारी ट्रिक्स सीखती हूँ। मेरे बेस फाउंडेशन में आर्गन आॅइल मिलाने से मेरी चमक बढ़ जाती है और मैं कैमरा के सामने छा जाती हूँ। उसकी उंगलियों से फाउंडेशन लगवाना भी मेरी त्वचा को सबसे बढ़िया और एकदम नैचुरल दिखने वाली फिनिश देता है। यह ट्रिक्स मैं अपनी निजी जिन्दगी में भी आजमाती हूँ।’’ एण्डटीवी के ‘भाबीजी घर पर हैं‘ में अनीता भाबी बनीं विदिशा श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘मेरा किरदार अनीता ग्लैमरस दिखने के लिये मशहूर है। लेकिन कुछ ही लोग जानते हैं कि मैं उस लुक में आने के लिये अपना मेकअप खुद करती हूँ, जिसमें 20 मिनट लगते हैं। मेकअप करने से मेरी खूबियाँ और आकर्षण बढ़ जाता है। मेकअप करने और बालों की देखभाल से मुझे राहत मिलती है। मुझे ऐसा करने में हमेशा मजा आता है, बचपन में भी, खासकर त्यौहारों, डांस परफाॅर्मेंसेस और ड्रामा के दौरान। मैंने पेशेवर तरीके से मेकअप करने की कला नहीं सीखी है, लेकिन एक क्लासिकल डांसर होने के कारण मैं मेकअप की बारीकियों से वाकिफ हूँ। अनीता के लुक के लिये मैं हैवी फाउंडेशंस से बचती हूँ, क्योंकि वह कुछ समय बाद केक जैसा हो जाता है। मैं भौहों को मोटा रखती हूँ और ज्यादा मेकअप से बचने की कोशिश करती हूँ और बाकी चीजें अपनी ड्रेस पर छोड़ देती हूँ। इस तरह मुझे सहजता होती है।’’

getmovieinfo.com

Related posts