उलझनों में एलझेंगे एण्डटीवी के किरदार

इस हफ्ते एण्डटीवी के शोज में किरदारों को उलझनों का सामना करना पड़ेगा

एण्डटीवी के ‘बाल शिव‘ की कहानी के बारे में महासती अनुसुइया ने कहा, ‘‘महासती अनुसुइया (मौली गांगुली) एक विशेष पूजा के लिये बाल शिव (आन तिवारी) से जंगल से कमल का एक विशेष फूल लाने के लिये कहती हैं। बाल शिव उस कमल की खोज में शिवलिंग पर्वत पर जाते हैं। उसी समय, कात्यायन (मनोज कोलहटकर) देवी कात्यायनी (तृषा आशीष सारदा) को शिवलिंग पर्वत पर ले जाते हैं और विशभासुर ताड़कासुर (कपिल निर्मल) को सूचना देता है कि देवी कात्यायनी वहाँ आ रही हैं। ताड़कासुर की ओर से विशभासुर देवी कात्यायनी को हानि पहुँचाने का प्रयास करता है, लेकिन बाल शिव का त्रिशूल उसके आक्रमण का उत्तर देता है और देवी कात्यायनी बच जाती हैं। देवी कात्यायनी को बाल शिव के रूद्राक्ष का एक टुकड़ा मिलता है। इस बीच ताड़कासुर बाल शिव और देवी कात्यायनी को मारने की एक नई रणनीति बनाता है। इंद्र और दूसरे देवता कात्यायन के पास पहुँचते हैं और अनुरोध करते हैं कि वह देवी पार्वती को छोड़ दें, लेकिन कात्यायन मना कर देते हैं। फिर महिषासुर का बाल रूप प्रकट होता है।’’

एण्डटीवी के ‘और भई क्या चल रहा है?‘ के बारे में सकीना मिर्ज़ा ने बताया, ‘‘बिट्टू (अन्नू अवस्थी) अपने पोते की शादी के लिये सभी को आमंत्रित करता है, जहां मिर्ज़ा (पवन सिंह) और सकीना (अकांशा शर्मा) यह बहस कर रहे होते हैं कि कैसे उनकी शादी की व्यवस्था बहुत अच्छी नहीं थी। बिट्टू उनकी यह बात सुन लेता है। जब वे मिश्रा (अंबरीश बाॅबी) और शांति (फरहाना फातेमा) से अपनी शादी की खराब व्यवस्था पर बात करते हैं, तब शांति हर किसी को यह बात बता देती है और मिर्ज़ा उदास हो जाता है। बाद में गुड्डू मिर्ज़ा से कहता है कि वह सकीना के साथ दोबारा शादी करे। जब मिर्ज़ा यह बात सकीना से कहता है, तब अम्मी जान उसकी बात गलत सुन लेती हैं और बाउजी के सामने अपनी चिंता व्यक्त करती हैं, जिससे यह भ्रम होता है कि मिर्ज़ा किसी और से शादी कर रहा है। अब मिर्ज़ा सारी गलतफहमियों को कैसे दूर करेगा?’’

एण्डटीवी के ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ के बारे में राजेश सिंह ने कहा, ‘‘हप्पू (योगेश त्रिपाठी) को मगनलाल इसके लिये रिश्वत देता है कि वह उसके मकान से विद्यासागर नाम के किरायेदार को निकाल दे। विद्यासागर ऋतिक (आर्यन प्रजापति), चमची (ज़ारा वारसी) और रणबीर (सौम्य आज़ाद)- (एचसीआर) का टीचर है। जब एचसीआर को विद्यासागर सड़क पर मिलता है, तब वे उसे अपने घर ले आते हैं। हप्पू सभी से कहता है कि उसी ने विद्यासागर को लात मारकर घर से बाहर निकाला है, जिससे एचसीआर डर जाते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि बदले में विद्यासागर उन्हें परीक्षा में फेल कर देगा। हप्पू इससे बचने के लिये बेनी (विश्वनाथ चटर्जी) को दरोगा हप्पू सिंह जैसी ड्रेस पहनाकर विद्यासागर को मूर्ख बनाता है। हालांकि बाद में उनके प्लान का खुलासा हो जाता है और विद्यासागर गुस्सा होकर चला जाता है। हप्पू इस स्थिति को कैसे संभालेगा या क्या इसके कारण दूसरी परेशानियाँ खड़ी होंगी?’’

एण्डटीवी के ‘भाबीजी घर पर हैं‘ के बारे में अनीता भाबी ने कहा, ‘‘चाचाजी (अनूप उपाध्याय) अनीता (विदिशा श्रीवास्तव) और विभूति (आसिफ शेख) को एक महंगे रेस्टोरेन्ट में खाना खिलाने ले जाते हैं। इस बीच, चाचाजी को एक काॅल आता है और वह गायब हो जाते हैं और अनीता को बिल के 40,000 रूपये चुकाने पड़ते हैं। अनीता चाचाजी पर गुस्सा होती है और विभूति के साथ मिलकर चाचाजी को बाहर का रास्ता दिखाने का प्लान बनाती है। अनीता और विभूति चाचाजी के सामने झगड़ा करने लगते हैं और अनीता बड़बोलेपन में विभूति से तलाक मांग लेती है, जिससे चाचाजी हक्के-बक्के रह जाते हैं। दूसरी ओर, तिवारी (रोहिताश्व गौड़) का विदेश से आया दोस्त अपनी माॅडर्न बीवी की लाइफस्टाइल की शेखी बघारता है और उसकी तुलना अंगूरी (शुभांगी अत्रे) से करता है। जलन में आकर तिवारी अंगूरी के देसी कपड़ो पर सवाल उठाता है और अंगूरी उसकी बात सुनकर गुस्सा हो जाती है। अंगूरी फिर अम्माजी (सोमा राठौड़) की मदद से अपना स्टाइल बदलती है और तिवारी को इम्प्रेस करने के लिये एक माॅडर्न ड्रेस पहनती है। बाद में विभूति और अनीता उसके ब्रेसलेट को चाचाजी की जेब में रखने और उन पर चोरी का आरोप लगाने की योजना बनाते हैं। हालांकि विभूति ब्रेसलेट को गलती से अंगूरी के वेस्टर्न कपड़ों में डाल देता है और हर किसी को लगता है कि अंगूरी चोर है। अब अंगूरी कैसे साबित करेगी कि उसने चोरी नहीं की है?’’

getmovieinfo.com

Related posts