एण्डटीवी के ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ में दिखेगा ऋषिकेश मुखर्जी की मशहूर काॅमेडी फिल्म ‘गोल माल‘ का जादू

एण्डटीवी के शो ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ ने हर हफ्ते अपनी हास्यास्पद और मनोरंजक कहानियों से अपने दर्शकों का हमेशा ही भरपूर मनोरंजन किया है

अब यह शो मनोरंजन की डोज को और ज्यादा बढ़ाने के लिये तैयार है

इस शो के आने वाले एपिसोड्स में ऋषिकेश मुखर्जी की मशहूर फिल्म ‘गोल माल‘ से प्रेरित एक खास कहानी दिखाई जायेगी। यह कहानी दर्शकों को हंसा-हंसा कर लोट-पोट कर देगी, क्योंकि इसमें हप्पू बिना मूंछों वाले अवतार टप्पू के रूप में नजर आयेगा। इस कहानी में हप्पू भी कुछ ऐसी ही स्थिति में फंस जायेगा, जिसमें 1979 की आइकाॅनिक काॅमेडी मूवी ‘गोल माल‘ के अमोल पालकर फंसे थे।

यह कहानी फिल्म की कुछ सुनहरी यादों को ताजा करेगी और साथ ही एक हास्यप्रद कहानी और शो के सभी कलाकारों के उम्दा अभिनय से आपको हंसायेगी भी। दरअसल होता यह है कि बेनी और हप्पू किट्टुकमसिन के लेट-नाइट शो में जाते हैं। इस शो में कमिश्नर हप्पू को देख लेता है और अगले दिन उससे अपनी नाइट ड्यूटी छोड़कर वहां आने पर सवाल-जवाब करने लगता है। इस पर आमोल पालेकर की तरह ही हप्पू (योगेश त्रिपाठी) भी कमिश्नर से झूठ बोल देता है कि उसका एक भाई टप्पू है, जो दिखने में बिल्कुल उसकी तरह ही है, बस उसकी मूंछें नहीं हैं।

इस कहानी और कल्ट-क्लासिक मूवी के जादू को दोबारा जगाने के अनुभव के बारे में बताते हुये योगेश त्रिपाठी ऊर्फ दरोगा हप्पू सिंह ने कहा, ‘‘गोलमाल मेरी पसंदीदा कल्ट-काॅमेडी फिल्मों में से एक है। ऋषिकेश मुखर्जी को ‘किंग आॅफ काॅमेडी बिल्कुल सही कहा जाता है। उनकी फिल्में एकदम साधारण और व्यंगात्मक कहानियों वाली होती हैं। ये फिल्में एक मजबूत सामाजिक संदेश देती हैं और मध्यम वर्गीय परिवार की मानसिकता को बहुत अच्छी तरह से दिखाते हैं। गोलमाल उनकी एक बेहतरीन कल्ट क्लासिक फिल्म है और जब मुझे इस शो में आगे दिखाई जाने वाली कहानी के बारे में बताया गया, तो मैं बहुत ही ज्यादा रोमांचित हो उठा। यह एक ऐसी कहानी है, जिसके बारे में याद करके मुझे हमेशा खुशी होगी और जो मेरी यादों में सदैव बना रहेगा। इसमें कोई शक नहीं है कि यह एक सबसे पसंदीदा एपिसोड है और सभी कलाकारों ने इसके लिये बहुत कड़ी मेहनत की है। डबल रोल करना कभी भी आसान काम नहीं होता है, लेकिन इसका अपना एक अलग ही मजा होता है।‘‘ योगेश ने कहानी के बारे में आगे बताते हुये कहा, ‘‘टप्पू का रूसा (कमिश्नर की साली) के म्यूजिक टीचर के रूप में जुड़ना, जिससे रूसा को प्यार हो जाता है, दर्शकों के लिये कहानी में कई रोमांचक मोड़ लेकर आयेगा और मनोरंजन के स्तर को और भी बढ़ा देगा। यह कहानी फिल्म से प्रेरित है, लेकिन इसके अपने दिलचस्प मोड़ हैं। इस खास कहानी के लिये शूटिंग करने में सभी कलाकारों को बहुत मजा आया और मुझे पूरा यकीन है कि हमारे दर्शकों को भी छोटे पर्दे का ‘गोल माल‘ देखकर बहुत ज्यादा मजा आने वाला है।‘‘

getmovieinfo.com

Related posts